पुरी पीठाधीश्वर जगतगुरु शंकराचार्य जी महाराज स्वामी निश्चलानंद सरस्वती का जन्म दिवस राष्ट्रोत्कर्ष दिवस के रूप में मनाया जाएगा



पटना-बिहार,
इंडिया इनसाइड न्यूज़।

ऋग्वेदीय पूर्वामनाय अनन्तश्रीविभूषित श्रीमज्जगदगुरु शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती जी महाराज का प्राकट्य दिवस आषाढ़ कृष्ण त्रयोदशी, बुधवार, दिनांक 7 जुलाई 2021को राष्ट्रोत्कर्ष दिवस के रूप में मनाया जाएगा।

इस पावन अवसर पर भारतवर्ष के समस्त शिष्यवृन्द एवम् श्रद्धालुओं से आग्रह है कि अपने अपने घरों में रहकर कोरोना प्रोटोकॉल के साथ पूज्यपाद के स्वस्थ एवं दीर्घायु जीवन की कामना से तथा उनके मार्गदर्शन में राष्ट्रोत्कर्ष अभियान की सफलता के लिये हनुमान चालीसा का पाठ करें, साथ ही रुद्राभिषेक, सुन्दर कांड का पाठ, विष्णु सहस्रनाम का पाठ तथा संकीर्तन इत्यादि परिजनों के साथ मिलकर करें।

श्रीहरिगुरु करुणा के अमोघप्रभाव से पूज्यपाद श्रीमज्जगदगुरु शंकराचार्य महाभाग की कृपा और आशीर्वाद हम सबको सदैव मिलता रहे तथा राष्ट्र का सर्वविध उत्कर्ष हो। इसी भाव के साथ के साथ सभी की जानकारी के लिए शंकराचार्य महाभाग की जन्मभूमि में बड़े कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। महा रुद्राभिषेक भजन संध्या, संकीर्तन, वृक्षारोपण, दीप प्रज्वलन, प्रसाद वितरण आदि के अतिरिक्त महाराजश्री के विराट व्यक्तित्व तथा कृतित्व पर परिचर्चा का आयोजन भी किया जा रहा है।

बता दें कि उपरोक्त जानकारी शैलेश तिवारी ने साझा किया है।

ताजा समाचार

  India Inside News


National Report



Image Gallery
Budget Advertisementt
इ-पत्रिका - जगत विज़न


राष्ट्रीय विशेष
Budget Advertisementt