तिहाड़ जेल में सत्येंद्र जैन का नया वीडियो: एमसीडी चुनाव में केजरीवाल की पार्टी की मुश्किंले बढ़ीं



--राजीव रंजन नाग,
नई दिल्ली, इंडिया इनसाइड न्यूज़।

दिल्ली सरकार के मंत्री और आम आदमी पार्टी के नेता सत्येंद्र जैन का तिहाड़ जेल से एक नया सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद केजरीवाल सरकार की मुसीबतें और बढ़ सकती हैं। ताजा वीडियो में सत्येंद्र जैन निलंबित जेल सुपरिटेंडेंट अजीत कुमार के साथ नजर आ रहे हैं।

इस वीडियो में सत्येंद्र जैन और निलंबित जेल सुपरिटेंडेंट अजीत कुमार के साथ बातचीत करते नजर आ रहे हैं। अजीत कुमार पर ईडी ने आरोप लगाया था कि वह जेल में सत्येंद्र जैन को सुविधाएं देते हैं, इस पर कार्रवाई करते हुए उन्हें हटा दिया गया था।

तिहाड़ जेल में बंद सत्येंद्र जैन का यह वीडियो 12 सिंतबर का है। इससे पहले जेल से सत्येंद्र जैन के दो वीडियो सामने आए हैं, जिसमें पहले वीडियो में आप मंत्री मसाज कराते नजर आ रहे थे। इसके अलावा दूसरे वीडियो में सत्येंद्र जैन सेल में फल और ड्राई फ्रूट्स के अलावा बाहर का खाना भी खाते दिखे थे। तिहाड़ जेल के इन वीडियो के वायरल होने पर बीजेपी और कांग्रेस ने आप पर जमकर हमला किया था। वहीं आप ने सत्येंद्र जैन के मसाज वीडियो के सामने आने पर बीमारी की बात कही थी इस मामले पर दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने दावा किया था कि सत्येंद्र जैन बीमार हैं और डॉक्टर ने उन्हें फिजियोथेरेपी कराने को कहा है जिसके चलते उनकी मसाज की जा रही है।

बीजेपी सांसद परवेश वर्मा ने सत्येंद्र जैन के इस वीडियो पर ट्वीट कर कहा "मैं पहले दिन से कह रहा हूँ कि यह भ्रष्टाचारी अपने मन्त्रीपद का दुरूपयोग कर रहा है, कहीं सत्येंद्र जैन अरविंद केजरीवाल की पोल ना खोल दे इसलिए अपने पापों को दबाने के लिए केजरीवाल इन्हें ये सुविधा दिला रहे हैं।" इसके साथ ही दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने सत्येंद्र जैन के मसाज वीडियो पर ट्वीट कर लिखा, "आप ने कानून की क्या खूब धज्जियां उड़ाई! देखिए कैसे हवाला मामले में लंबे अरसे से बंद सत्येंद्र जैन तिहाड़ जेल से अपने गुर्गों के साथ मौज कर रहे हैं.. बड़े आराम से पांव दबवा रहे हैं। इसलिए ऐसे मंत्री को बर्खास्त नहीं करते अरविंद केजरीवाल ताकि जेल से धंधा चलना न बंद हो जाएगा?"

आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, जिन्होंने भाजपा पर चुनाव में अपने नेताओं को नुकसान पहुंचाने के लिए केंद्रीय एजेंसियों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया था। टाइम स्टैम्प के अनुसार, लगभग 10 मिनट की वीडियो क्लिप, 12 सितंबर को रात 8 बजे के आसपास, जैन को अपने बिस्तर पर आराम करते हुए दिखाया गया है, जब तीन लोग सामान्य कपड़ों में उनसे मिलने जाते हैं। कुछ ही मिनटों में, उस समय जेल नंबर सात के अधीक्षक अजीत कुमार अंदर आते हैं और जैन के साथ बातचीत करते हैं, जबकि बाकी लोग बाहर चले जाते हैं।

सत्येंद्र जैन को पहले अपने सेल के अंदर एक व्यक्ति द्वारा मालिश करवाते और अन्य कैदियों के साथ बातचीत करते देखा गया था, जिनमें से किसी को भी जेल के अंदर जाने की अनुमति नहीं है। वह फलों का सलाद खाते हुए जेल में खाने की गुणवत्ता पर अपनी शिकायत लेकर सवालों के घेरे में भी देखा गया था। जबकि आम आदमी पार्टी (आप) ने दावा किया था कि ये "फिजियोथेरेपी सत्र" थे जो उनके डॉक्टर ने उनकी रीढ़ की हड्डी की सर्जरी के बाद सुझाए थे। आप इस दावे को सूत्रों ने खारिज कर दिया था, जिन्होंने कहा था कि "मालिश करने वाला" एक कैदी था, जो अपनी ही बेटी के साथ बलात्कार का आरोपी था।

अगले महीने दिल्ली नगर निकाय चुनाव से पहले ये वीडियो भाजपा और आप के बीच चर्चा का विषय बन गए हैं, भाजपा मांग कर रही है कि जैन को 'विशेष उपचार' के कारण तिहाड़ जेल से बाहर कर दिया जाए। बीजेपी नेताओं ने अपने इस आरोप को पुख्ता करने के लिए लगभग हर दिन सुरक्षा कैमरे के फुटेज के साथ सोशल मीडिया की भरमार लगा दी है कि आप, जो भ्रष्टाचार और 'वीआईपी ट्रीटमेंट' के खिलाफ रैली करती है, वास्तव में उसी में शामिल है। भाजपा ने जैन पर मुकदमे की प्रतीक्षा के दौरान विशेष भत्तों का आनंद लेने का आरोप लगाया।

प्रवर्तन निदेशालय द्वारा मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किए गए जैन पर तिहाड़ जेल के अंदर विशेष उपचार करने का आरोप लगाने के कुछ दिनों बाद क्लिप सामने आने लगीं। "वीआईपी उपचार" के आरोप के कारण महानिदेशक (जेल), संदीप गोयल के अलावा कम से कम 12 तिहाड़ जेल अधिकारियों का तबादला किया जा चुका है। श्री जैन जून से जेल में हैं। दिल्ली की एक अदालत ने पिछले सप्ताह उनके जमानत अनुरोध को खारिज कर दिया था।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को “एनडीटीवी टाउनहॉल” कार्यक्रम में अपने मंत्री सत्येंद्र जैन के बचाव में में कहा था कि जेल में उनके साथ किताबी व्यवहार किया गया है। "सत्येंद्र जैन के लिए जेल में कोई वीवीआईपी सुविधाएं नहीं थीं। उन्हें जो कुछ भी मिला वह जेल मैनुअल के अनुसार था। आदमी रोटी खा रहा है, आप पूछते हैं कि वह रोटी क्यों खा रहा है। यह किस तरह की राजनीति है?" श्री केजरीवाल ने गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधने के लिए आरोपों को पलट दिया। उन्होंने दावा किया कि गुजरात में जेल में रहने के दौरान उनके पास विशेष विशेषाधिकार थे। श्री केजरीवाल ने कहा "यदि आप जेलों में वीवीआईपी संस्कृति देखना चाहते हैं, तो देखें कि सीबीआई चार्जशीट अमित शाह के जेल में होने के बारे में क्या कहती है। उन्होंने उसके लिए एक डीलक्स जेल बनाई। सत्येंद्र जैन के मामले में, अदालत ने वीवीआईपी संस्कृति के बारे में कुछ नहीं कहा - क्या अदालत तय करें या आप या बीजेपी वीवीआईपी कल्चर क्या है, इस पर फैसला करेंगे?"

अंडरवर्ल्ड अपराधी सोहराबुद्दीन शेख की न्यायेतर हत्या के आरोप में अमित शाह को 2010 में गिरफ्तार किया गया और कुछ समय के लिए जेल में डाल दिया गया। सबूतों के अभाव में 2014 में उनके खिलाफ मामला हटा दिया गया था।

ताजा समाचार

National Report

  India Inside News




Image Gallery