मिथुन, तुला, धनु, मकर और कुंभ राशि पर है शनि की तिरछी नजर, जानें उपाय



--डॉ• इंद्र बली मिश्र,
काशी हिन्दू विश्वविद्यालय ,
वाराणसी-उत्तर प्रदेश, इंडिया इनसाइड न्यूज़।

इस समय शनि वक्री चाल चल रहे हैं। शनि की वक्री चाल का असर कुछ राशियों पर 11 अक्टूबर तक रहेगा। शनि की वक्री अवस्था मिथुन, तुला, धनु, मकर और कुंभ राशि के लिए शुभ नहीं है। इन राशियों के जातकों को अपना विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। शनि के अशुभ प्रभावों से हर कोई भयभीत रहता है। शनि को ज्योतिष में क्रूर और पापी ग्रह कहा जाता है। शनि के अशुभ प्रभावों से व्यक्ति का जीवन बुरी तरह प्रभावित हो जाता है। आइए जानते हैं शनि के अशुभ प्रभावों से बचने के उपाय...।

■ हनुमान जी की पूजा करें

शनि के अशुभ प्रभावों से बचने के लिए हनुमान जी की पूजा करें। हनुमान जी की कृपा से सभी तरह के दोषों से मुक्ति मिल जाती है। रोजाना नियमित रूप से श्री हनुमान चालीसा का पाठ करें। हनुमान चालीसा का पाठ करने से हनुमान जी की विशेष कृपा प्राप्त होती है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार हनुमान जी के भक्तों पर किसी भी तरह का अशुभ प्रभाव नहीं पड़ सकता है।

■ भगवान शिव की पूजा करें

भगवान शिव की पूजा करने से शनि दोषों से मुक्ति मिल जाती है। भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए रोजाना भगवान शिव को जल अर्पित करें। इस समय कोरोना वायरस की वजह से घर में रहना ही सुरक्षित है। अगर आपके घर में शिवलिंग है तो घर में ही शिविलंग में जल अर्पित करें। भगवान शिव की कृपा से सभी तरह के कष्ट दूर हो जाते हैं।

● धार्मिक मान्यताओं के अनुसार शनिवार का दिन शनिदेव को समर्पित होता है। इस दिन विधि- विधान से शनिदेव की पूजा करें अथवा तिल तेल का दीपक जलाएं।

■ जरूरतमंद लोगों की मदद करें

शनिदेव ऐसे लोगों से प्रसन्न होते हैं जो जरूरतमंद लोगों की मदद करते हैं। शनि दोषों से मुक्ति के लिए अपनी क्षमता के अनुसार जरूरतमंद लोगों की मदद जरूर करें।

ताजा समाचार

  India Inside News


National Report



Image Gallery
Budget Advertisementt
इ-पत्रिका - जगत विज़न


राष्ट्रीय विशेष
Budget Advertisementt