मीडिया व पत्रकारों पर अंकुश लोकतंत्र की हत्या समान : केन्द्रीय मंत्री राम कृपाल यादव



पटना, 13 सितम्बर 2018, इंडिया इनसाइड न्यूज़।

● इंडियन फेडरेशन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट्स (आई•एफ•डब्लू•जे•) की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यसमिति पटना में शुरू, देशभर के तीन सौ से अधिक पत्रकार हुए शामिल

केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्री राम कृपाल यादव ने कहा है कि मीडिया व पत्रकारों पर अंकुश लगाया जाना लोकतंत्र की हत्या के समान है। वह आज इंडियन फेडरेशन ऑफ़ वर्किंग जर्नलिस्ट्स (आई•एफ•डब्लू•जे•) के 130वीं कार्यसमिति के अवसर पर आयोजित राष्ट्रीय पत्रकार सम्मलेन के उद्घाटन सत्र को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पत्रकार समाज में उस महावत की भूमिका में होते हैं जो अनियंत्रित सत्ता समान पागल हाथी को नियंत्रित करते हैं। लोकतंत्र को बचाए रखने में उनकी भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है।

इससे पूर्व, भारतीय नृत्य कला मंदिर, पटना में आई•एफ•डब्लू•जे• की बिहार इकाई द्वारा आयोजित दो दिवसीय सम्मलेन का उद्घाटन उन्होंने दीप प्रज्वलित कर किया।

इस अवसर पर बिहार के पथ निर्माण मंत्री नन्द किशोर यादव ने कहा कि आजकल पत्रकारों के समक्ष चुनौतियां बढ़ गयी है लेकिन उनकी भूमिका आजादी के आन्दोलन के दौरान से लेकर 74 का छात्र आन्दोलन और आपातकाल में भी रही है और आज भी उनकी भूमिका कमोवेश महत्वपूर्ण रही है।

पटना विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो• रास बिहारी सिंह ने कहा कि पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जो सभी क्षेत्रों को प्रभावित करता है। यह अलग बात है कि मीडिया का स्वरूप बदला है और तकनीक के सहारे स्थानीय समाचार भी देश भर में फ़ैल जाते हैं।

दूरदर्शन, पटना की केंद्र निदेशक रत्ना पुरकस्थ्या ने कहा कि दूरदर्शन गाँव के अन्तिम व्यक्ति तक पहुँचने की दिशा में आज़ादी के बाद से लगातार प्रयासरत्त है और उसे सफलता मिल रही है। उन्होंने कहा कि आज कल पत्रकारिता की ओट में व्यक्तिगत आक्षेप करने की परंपरा सी बन गयी है जो मीडिया एथिक्स के खिलाफ है।

इंडियन फेडरेशनऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट्स के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ• के• विक्रम राव ने बिहार की पत्रकारिता व पत्रकारों को सलाम करते हुए कहा कि हाल के दिनों में राजस्थान के बेक़सूर पत्रकार दुर्ग सिंह राजपुरोहित की फर्जी गिरफ्तारी के विरोध में जिस तरह से आई•एफ•डब्लू•जे• के बैनर तले पत्रकारों ने मुहिम चलाई वह अनुकरनीय है। आगे उन्होंने कहा कि आई•एफ•डब्लू•जे• लगातार पत्रकार के सुरक्षा और उनके हितों के लिए पिछले साढ़े छह दशकों से लगातार प्रयासरत्त है।

बिहार इकाई के प्रदेश अध्यक्ष डॉ• ध्रुव कुमार ने देश भर आये तीन सौ से अधिक पत्रकारों का स्वागत करते हुए कहा कि पत्रकारों के लिए अपने लक्ष्य और मुद्दों के प्रति गंभीर रहना राष्ट्र और समाज के लिए अतिमहत्वपूर्ण है।

इस अवसर पर प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर सोसाइटी के डी• के• सिंह, स्कॉलर अब्रॉड की प्राचार्य बी प्रियम, राष्ट्रीय महासचिव बिपिन धुलिया, कोषाध्यक्ष आर• पी• यादव, राष्ट्रीय सचिव मोहन कुमार, प्रदेश महासचिव सुधीर मधुकर, लोकगीत गायिका नीतू नवगीत ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

इस मौके पर आई•एफ•डब्लू•जे• की विभिन्न राज्य इकाइयों के तीन सौ से ज़्यादा सदस्य जिनमे प्रमुखता से उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष हसीब सिड्डीकी, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य संतोष चतुर्वेदी, विशेष आमंत्रित राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य सुरेश बहादुर सिंह एवं रमदत्त त्रिपाठी, लखनऊ अध्यक्ष शिव शरण सिंह, महामंत्री के• विश्वदेव राव, सचिव विनीत बिन्नी, अविनाश शुक्ला, सोनभद्र से मिथलेश द्विवेदी, राजेश दिवेदी, जौनपुर से विजय प्रकाश मिश्रा, तेलंगाना इकाई के अध्यक्ष अनन्दम, सोमहिया, उत्तराखंड से महासचिव प्रदीप फूटेला, राजस्थान अध्यक्ष उपेन्द्र सिंह राठौर, शंकर नागर, कर्नाटका से नारायण, शांताकुमारी, मध्यप्रदेश के अध्यक्ष सलमान खान, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य हरीओम पांडेय, तमिलनाडु के अध्यक्ष सगायरज, चंद्रिका, प्रदीप, लक्ष्मी, अंधरप्रदेश से डी• बाबू रेडी, मूर्ति, बंगाल से अमित राय व रंजीत सिंह लुधियानवी, केरल से सुदीशन, मो• सलीम, नएर, बिहार इकाई के प्रमोद दत्त, मुकेश महान, अभिजित पाण्डेय, वीणा बेनीपुरी, प्रभाष चन्द्र शर्मा, सत्यनारायण चतुर्वेदी, गंगा चौधरी, महेश प्रसाद सिंह, नीता सिन्हा मौजूद थे।

Big on Hosting. Unlimited Space & Unlimited Bandwidth

कार्टून
इ-पत्रिका इंडिया इनसाइड
इ-पत्रिका फैशन वर्ल्ड
Newsletter
राष्ट्रीय विशेष