पद्म पुरस्‍कार-2019 के लिए 1,200 से अधिक नामांकन प्राप्‍त हुए, प्रक्रिया 15 सितंबर तक खुली रहेगी



नई दिल्ली, 12 जून 2018, इंडिया इनसाइड न्यूज़।

गणतंत्र दिवस 2019 के अवसर पर घोषित किए जाने वाले पद्म पुरस्‍कारों के लिए ऑनलाइन नामांकन/सिफारिशों की अंतिम तिथि 15 सितंबर, 2018 है। पहले ही वेबसाइट पर 1,654 पंजीकरण कराए जा चुके हैं। इनमें से 1,207 नामांकन/सिफारिशें नामांकन प्रारंभ होने की तिथि 1 मई, 2018 से पूरी कर ली गई हैं।

व्‍यापक विचार में सहायता के लिए केंद्रीय मंत्रालयों/विभागों, राज्‍य/केंद्रशासित प्रदेश सरकारों, भारत रत्‍न और पद्म विभूषण से विभूषित हस्तियों, उत्‍कृष्‍टता के संस्‍थानों तथा कई अनेक स्रोतों से नामांकन आमंत्रित किए गए हैं। गृह मंत्रालय ने 25 अप्रैल, 2018 को अपने सूचना पत्र में इन सभी से ऐसे प्रतिभावान व्‍यक्तियों की पहचान में प्रयास करने का अनुरोध किया गया जो जिनकी उत्‍कृष्‍टता और उपलब्धियां मान्‍यता के योग्‍य हैं तथा इनके पक्ष में उचित नामांकन का अनुरोध किया गया है।

पद्म पुरस्‍कारों के लिए नामांकन/सिफारिशें केवल ऑनलाइन रूप में पद्म पोर्टल www.padmaawards.gov.in. पर प्राप्‍त की जा रही हैं। सभी नागरिक स्‍वयं के नामांकन सहित नामांकन/सिफारिश कर सकते हैं। उपरोक्‍त वेबसाइट पर उपलब्‍ध प्रारूप में नामांकनों/सिफारिशों के प्रासंगिक ब्‍यौरे दिए जाने चाहिए। इसमें विवरण रूप में प्रशंसात्‍मक उल्‍लेख (अधिकतम 800 शब्‍द) शामिल हैं जिसमें स्‍पष्‍ट रूप से अनुशंसित व्‍यक्ति की अपने-अपने क्षेत्र में असाधारण उपलब्धि/सेवा का वर्णन होगा। ऑनलाइन किसी व्‍यक्ति के नाम की सिफारिश करते हुए यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि आवश्‍यक ब्‍यौरे उचित रूप में भरे गए हैं।

पद्म पुरस्‍कारों में पद्म विभूषण, पद्म भूषण तथा पद्म श्री देश के सर्वोच्‍च नागरिक सम्‍मान है। यह सम्‍मान 1954 में प्रारंभ किए गए और इन सम्‍मानों की घोषण प्रत्‍येक वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर की जाती है। यह पुरस्‍कार विशिष्‍ट कार्य को मान्‍यता देते हैं और कला, साहित्‍य तथा शिक्षा, खेल, चिकित्‍सा, सामाजिक कार्य, विज्ञान तथा इंजीनियरिंग, लोक कार्य, सिविल सर्विस, व्‍यापार तथा उद्योग आदि के क्षेत्र में विशिष्‍ट और असाधारण उपलब्धियों/ सेवा के लिए दिए जाते हैं।

नस्‍ल, पेशा, पद और लिंग के आधार पर भेदभाव किए बिना सभी व्‍यक्ति इन पुरस्‍कारों के पात्र हैं। पद्म विभूषण असाधारण और विशिष्‍ट सेवा के लिए दिया जाता है। उच्‍च स्‍तर की विशिष्‍ट सेवा के लिए पद्म भूषण दिया जाता है और किसी क्षेत्र में विशिष्‍ट सेवा के लिए पद्म श्री पुरस्‍कार दिया जाता है।

गृह मंत्रालय के सूचना पत्र में महिलाओं, समाज के कमजोर वर्गों, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजातियों, दिव्‍यांगजनों के बीच ऐसे प्रतिभावान लोगों की पहचान करने का अनुरोध किया गया है जो पुरस्‍कार के योग्‍य हैं। डॉक्‍टरों और वैज्ञानिकों को छोड़कर सावर्जनिक प्रतिष्‍ठानों में काम करने वालों सहित सरकारी कर्मचारी पद्म पुरस्‍कारों के पात्र नहीं हैं।

और अधिक जानकारी के लिए गृह मंत्रालय की वेबसाइट www.mha.nic.in. पर ‘अवार्डस और पदक’ पर क्लिक करें। इन पुरस्‍कारों से संबंधित विधान और नियम गृह मंत्रालय की वेबसाइट पर लिंक http://padmaawards.gov.in/SelectionGuidelines.aspx पर उपलब्‍ध हैं।

Big on Hosting. Unlimited Space & Unlimited Bandwidth

कार्टून
इ-पत्रिका इंडिया इनसाइड
इ-पत्रिका फैशन वर्ल्ड
Newsletter
राष्ट्रीय विशेष