पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय द्वारा अहमदाबाद में कार्यशाला का आयोजन



अहमदाबाद, 16 फरवरी 2018, इंडिया इनसाइड न्यूज़।

(●) हाइड्रोकार्बन उत्खनन की एक समान खुली रकबा लाइसेंस नीति पर पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय द्वारा अहमदाबाद में कार्यशाला का आयोजन

संभावित नि‍वेशकों को हाइड्रोकार्बन उत्‍खनन की एकसमान खुली रकबा लाइसेंस नीति तथा नि‍विदा प्रक्रिया की जानकारी उपलब्‍ध कराने हेतु सरकार द्वारा 15 फरवरी को अहमदाबाद में एक सफल कार्यशाला का आयोजन कि‍या गया।

हाईड्रोकार्बन नि‍देशालय द्वारा आयोजित इस कार्यशाला में हाईड्रोकार्बन महानि‍देशक (डिजीएच) और वरिष्‍ठ सरकारी अधिकारियों सहित 150 से ज्‍यादा उत्खनन एवं उत्पादन कंपनियों, निवेशकों, उद्यमि‍यों तथा शि‍क्षाविदों ने हिस्‍सा लिया।

कार्यशाला में प्रतिभागियों को हाइड्रोकार्बन लाइसेंस नी‍ति के बारे में जरुरी जानकारि‍यों के साथ ही पहले चरण की बोली पक्रिया के बारे में भी विस्‍तार से बताया गया। इस दौरान अधिकारि‍यों ने दूसरे चरण की बोली के तहत नामित छोटे हाइड्रोकार्बन क्षेत्रों की भी जानकारी दी। बताया गया कि‍ नामित हाइड्रोकार्बन क्षेत्रों के लिए दूसरे चरण की बोली सरकार द्वारा जल्‍दी ही शुरु की जाएगी। इस चरण के तहत 1.4 अरब बैरल तेल तथा इतनी ही मात्रा में प्राकृतिक गैस के भंडार वाले कुल 60 खोजे गए क्षेत्रों की बोली लगायी जाएगी। दूसरे चरण के तहत आवंटित किए जाने वाले क्षेत्र पहले चरण की बोली के तहत आवंटित क्षेत्रों की तुलना में आकार और तेल तथा गैस भंडारों की तुलना में तकरीबन दोगुने हैं। कार्यशाला में बताया गया कि पहले चरण की बोली में खनन एवं उत्‍पादन क्षेत्र की 134 कंपनि‍यों से नि‍विदाएं प्राप्‍त हुयीं जिसमें से 12 निजी और एक विदेशी तथा 13 नयी कंपनियां थीं। हाइड्रोकार्बन के महानिदेशक अतनु चक्रवर्ती ने इस अवसर पर नयी खुली रकबा लाइसेंस नीति के तहत खनन एवं उत्‍पादन क्षेत्र की कंपनि‍यों के लिए नि‍वेश की विभिन्‍न संभावनाओं की जानकारी भी दी गयी। डिजीएच में उत्‍खनन निदेशक संजय कुमार जैन ने कार्यशाला में नयी लाइसेंसे नीति से जुड़ी तमाम जानका‍रिया विस्‍तार से दीं।

नयी हाईड्रोकार्बन उत्‍खनन और लाइसेंस नीति जनवरी 2018 में पेट्रालियम मंत्री धर्मेन्‍द्र प्रधान द्वारा जारी की गयी थी। इसमें हाइड्रोकार्बन क्षेत्रों के लिए पहले चरण की बोली के तहत कुल 59282 वर्ग किलोमीटर के ब्‍लाक 55 सफल बोलीकर्ताओं को आवंटि‍त कि‍ए गए।

नयी लाइसेंस नीति के तहत पहले चरण की बोली में बडी संख्‍या में कंपनि‍यों द्वारा रुचि दिखाए जाने से नयी नीति की स्‍वीकार्यता के उत्साहजनक परिणाम देखने को मिले हैं। अहमदाबाद में सफल कार्यशाला के आयोजन के बाद अब सरकार की कोलकाता में भी ऐसी ही एक कार्यशाला आयोजित करने की तैयारी है।

Big on Hosting. Unlimited Space & Unlimited Bandwidth

कार्टून
इ-पत्रिका इंडिया इनसाइड
इ-पत्रिका फैशन वर्ल्ड
Newsletter
राष्ट्रीय विशेष